Home अवर्गीकृत किसान आंदोलन: गाजीपुर बॉर्डर पर भी सीमेंट के बैरिकेड, लोहे की कीलें...

किसान आंदोलन: गाजीपुर बॉर्डर पर भी सीमेंट के बैरिकेड, लोहे की कीलें भी लगाई गईं

126
0
SHARE

दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए अभूतपूर्व इंतजाम किए हैं. दिल्ली-यूपी का गाजीपुर बॉर्डर अब किसान आंदोलन का नया केंद्र बन गया है, जहां राकेश टिकैत की अगुवाई में हजारों की संख्या में किसान जुट रहे हैं. गाजीपुर बॉर्डर पर अभूतपूर्व सुरक्षा के इंतजामपुलिस की ओर से सड़कों पर कीलें गाढ़ी गईं6 फरवरी को होने वाले चक्का जाम की तैयारी
रहे हैं. पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर के चारों ओर बैरिकेडिंग कर दी है, यहां सीमेंट के बैरिकेड बनाए गए हैं और सड़कों पर कीलें लगाई गई हैं. ताकि अगर किसान प्रदर्शनकारी फिर से ट्रैक्टर दिल्ली में लाना चाहें तो ना ला पाएं.

आपको बता दें कि इससे पहले दिल्ली के टिकरी बॉर्डर और सिंघु बॉर्डर से भी ऐसी ही तस्वीरें सामने आई थीं. जहां दिल्ली पुलिस की ओर से सुरक्षा बढ़ाई गई है, सड़कों पर कीलें ठोक दी गईं और सीमेंट की बैरिकेडिंग की गई.

गौरतलब है कि 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड के दौरान पुलिस को बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ा था. अब 6 फरवरी को किसानों ने देशभर में चक्का जाम करने की बात कही है, ऐसे में अब पुलिस को चिंता है कि फिर से 26 जनवरी जैसा माहौल ना बन जाए. यही कारण है कि पुलिस अलग-अलग तरह की व्यवथा करती नजर आ रही है.
सरकार की ओर से पहले ही दिल्ली की सीमाओं पर इंटरनेट की सुविधा को बंद कर दिया गया है. जहां-जहां किसान धरने पर हैं, उन इलाकों के आसपास इंटरनेट नहीं है. इसके अलावा सुरक्षा को बढ़ाया जा रहा है, बॉर्डर भी बंद हैं. ऐसे में प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए सरकार ने पूरी तैयारी की है. हालांकि, इस सब तैयारियों के कारण लोगों को घंटों तक जाम में फंसना पड़ रहा है.

सड़क पर कीलें, रास्तों पर बाड़,
किसानों को रोकने के लिए पुलिस की मोर्चाबंदी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here