Home विदर्भ अमरावती युवक गिरफ्तार, मतदान का बहिष्कार

युवक गिरफ्तार, मतदान का बहिष्कार

18
0
SHARE

वरुड़. वरुड़ में युति के प्रत्याशी के लिये भाजपा की सभा में उस समय हंगामा हो गया. जब एक युवक द्वारा विधायक डा. अनिल बोंडे से प्रश्न पूछे जाने पर उसे अरेस्ट कर लिया गया. इस घटना से संतप्त जरुड़वासियों ने मतदान पर ही बहष्किार डालने का निर्णय लिया है. ग्रामवासियों द्वारा पुलिस चौकी पर दस्तक देने से आखिरकार रात डेढ़ बजे इस युवक को प्रतिबंधक कार्रवाई के बाद रिहा किया गया.

पेयजल पर उठाया सवाल
जरूड़ के गुजरी बाजार चौक में शनिवार की शाम 7 बजे भाजपा की सभा हुई. जिस समय विधायक डा. अनिल बोंडे संबोधित कर रहे थे. ठीक उसी समय अतुल देशमुख ने पेयजल का प्रश्न उपस्थित किया. साथ ही शरद उपसा योजना अंतर्गत कर्ज माफ क्यों नहीं हुआ, ऐसा प्रश्न करते हुए इस बात पर रोष जताया कि गत 5 वर्षों में रामदास तड़स ने जरूड़ के विकास पर एक रुपये की भी निधि खर्च नहीं की. इस पर विधायक डा. बोंडे भड़क उठे. उन्होंने कहा कि पानी का प्रश्न हल करने ग्रापं है. यह काम सरपंच का है. इसी समय सोपान ढोले नामक अन्य एक युवक ने भी कुछ प्रश्न पूछने का प्रयास किया. जिसके बाद आयोजकों ने पुलिस को सूचना देकर कार्रवाई करने के आदेश दिए.

ग्रामवासियों के रोष से मध्यरात्रि रिहाई
सभा समाप्त होने के 1 घंटे बाद पुलिस ने घर जाकर अतुल देशमुख को अरेस्ट किया. जिससे संतप्त जरूड़वासी पुलिस चौकी में उमड़ पड़े. ग्रामवासियों का रोष देखते हुए मध्यरात्रि डेढ़ बजे अतुल देशमुख को रिहा किया गया. किंतु ग्रामवासियों ने इसे लोकतंत्र की हत्या करार देते हुए मतदान पर बहिष्कार डालने की चेतावनी दी है.

विरोधी घबराए
सभा में उमड़ी भीड़ देखते हुए विरोधी घबरा गए है. द्वेष भावना से जरूड़ के एक नेता के घर से इस युवक को सभा में हंगामा करने के लिए भेजा गया. गांव में पानी का प्रश्न ग्रापं हल करती है. नागरिकों का ध्यान भटकाने के लिए विरोधकों का यह षड्यंत्र है.

-डा.अनिल बोंडे.

लोकतंत्र का उड़ाया मजाक
लोकतंत्र में हर नागरिक को नेताओं से सवाल करने का अधिकार है. प्रश्न पूछने पर पुलिस के माध्यम से गिरफ्तार कर हवालात में रखना लोकतंत्र का मजाक उड़ाने वाली बात है. यह सीधे-सीधे हिटलरशाही है. जरूड़ समेत संपूर्ण वरूड़ की जनता इस मनमानी का जवाब देकर रहेगी.

-हर्षवर्धन देशमुख.

मतदान का करेंगे बहिष्कार
काम का लेखाजोखा मांगने का अधिकार सभी को है. भाजपा के एक जिम्मेदार विधायक द्वारा प्रश्न पूछने वाले युवक को पुलिस के स्वाधीन करना लोकतंत्र का गला दबाने का प्रयास है. पार्टी को वोटर सबक सिखाकर रहेगा. ग्रामवासियों ने मतदान पर बहिष्कार डालने का निर्णय लिया है. वरूड़ के तहसीलदार से इस संदर्भ में भेंट करेंगे.

-सोपान ढोले.

सभा में हुई घटना निंदणीय है. विरोधकों द्वारा जनबूझकर सभा में हंगामा खड़ा करने के उद्देश्य से यह घटना अंजाम देने का प्रयास किया गया.

-अंजलि तुमराम, सदस्य पंस.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here