Home विदर्भ गोंदिया केबल कनेक्शन धारकों पर बढ़ा आर्थिक बोझ

केबल कनेक्शन धारकों पर बढ़ा आर्थिक बोझ

65
0
SHARE

गोरेगांव. बढ़ते केबल टीवी चैनल पैकेजों के दाम को लेकर चर्चा हो रही है. शहर में लगभग 2 हजार के आसपास केबल कनेक्शन धारक है जिनकी संख्या धीरे धीरे कम हो रही है. सूचना का प्रसारण केंद्र सरकार द्वारा 1 फरवरी से ग्राहकों को अपने पसंद के पैकेज चुनने का विकल्प दिया गया था. चुने गए पैकेज के दाम ही केबल कनेक्शन धारकों को देने होगे जिससे कनेक्शन धारकों पर से आर्थिक बोझ कम होने का दावा ट्राई ने किया था लेकिन इसके विपरित केबल कनेक्शन धारकों के पसंदीदा चैनल चुनने पर इसका सामान्य नागरिकों पर बोझ बढ़ रहा है.

200 में हो जाता था मनोरंजन
ट्राई के निर्णय के पूर्व केबल कनेक्शन धारकों को 200 रु.प्रति माह में लगभग सभी चैनलों का मनोरंजन देखने मिल जाता था लेकिन अब इन्ही चैनलों को देखने के लिए केबल कनेक्शन धारकों को 400 से 500 रु. प्रतिमाह खर्च करना पडता है. ट्राई के आदेशानुसार किए गए नेटवर्क क्षमता शुल्क से नागरिकों को अनेक चैनल नि:शुल्क दिखाई दे रहे है लेकिन केबल धारकों को पसंदीदा चैनल के लिए अतिरिक्त भुगतान करना पड रहा है. केबल सेवा उपलब्ध करवाने के लिए केबल धारक को 154 रु. देना अनिवार्य है. उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा सिनेमा हॉल में फिल्म देखने पर 5 प्रश. जीएसटी वसूल किया जाता है और घर पर टीवी देखने पर 18 प्रश.जीएसटी अदा करना पड़ रहा है. नि:शुल्क चैनलों के अतिरिक्त कोई भी पैकेज लेने पर ग्राहकों को निश्चित चैनलों के दाम के रिचार्ज के रुप में अतिरिक्त आर्थिक बोझ पड़ रहा है.

ऐसी हैं पैकेज की दरें
सूचना व प्रसारण मंत्रालय ट्राई के निर्देशानुसार दिए गए सामान्य पैकेजों के दामों में जी पैकेज 45, स्टार 49, कलर 25, सोनी 31 व कार्टून 8 रु. प्रति माह इन सभी पर जीएसटी अलग से लगेगा. इस कारण शहर के सर्व साधारण केबल कनेक्शन धारक यह महंगे चैनलों का रिचार्ज करना उनके आर्थिक परिस्थिति पर अतिरिक्त बोझ पड रहा है जिस कारण अब सर्व साधारण नागरिकों को विभिन्न प्रकार के टीवी मनोरंजनों से वंचित रहना पड़ रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here