Home विदर्भ चंद्रपुर महाराष्ट्र राज्य ग्रापं कर्मचारी महासंघ का आंदोलन समाप्त

महाराष्ट्र राज्य ग्रापं कर्मचारी महासंघ का आंदोलन समाप्त

10
0
SHARE

CEO ने दिया लिखित आश्वासन

गोंदिया (का). महाराष्ट्र राज्य ग्रापं कर्मचारी महासंघ (आयटक) के नेतृत्व में जिले के ग्रापं कर्मियों ने अपनी मांगों को लेकर मोर्चा निकालकर जिप के समक्ष राज्य संगठक मिलिंद गणवीर व जिलाध्यक्ष कय्युम शेख के नेतृत्व में धरना आंदोलन शुरु किया था. कर्मियों की वरिष्ठता सूची के आधार पर 10 प्रश भर्ती करने, वेतन के लिए ऑन लाइन प्रक्रिया पूर्ण कर बैंक खातों में पूरा वेतन, भत्ता, भविष्य निर्वाह निधि अदा करने, वेतन पर 100 प्रश सरकारी अनुदान के लिए 90 प्रश. कर वसूली की शर्त रद्द करने, कम वसूली के लिए जिम्मेदार ग्रापं कार्यकारिणी व ग्राम सेवकों पर कार्रवाई करने, सेवा शर्तों का पालन करने आदि का मांगों समावेश था. कर्मियों की मांगों के संदर्भ में जिप सीईओ डा.राजा दयानिधि ने प्रतिनिधि मंडल तथा जिप सदस्य गंगाधर परशुरामकर व मनोज डोंगरे की उपस्थिति में चर्चा की. जिसमें 10 प्रश. आरक्षण के तहत 32 ग्रापं कर्मियों का चयन किए जाने की जानकारी सीईओ ने दी. साथ ही यह कार्यवाही अंतिम चरण में होने का तथा कर्मियों के विभिन्न सवालों पर सभी बीडीओ व महासंघ के प्रतिनिधियों की संयुक्त सभा लेने व अन्य मांगे मान्य किए जाने का लिखित आश्वासन मिलने के बाद अनशन समाप्त किया गया. धरना आंदोलन को महासंघ के कार्याध्यक्ष मुन्नालाल ठाकरे, सचिव सुखदेव शहारे, उपाध्यक्ष टेकचंद चौधरी, कोषाध्यक्ष राजेंद्र हटेले, संयोजक उमेश राऊत, संगठन सचिव विष्णु हत्तीमारे, सहसचिव रविंद्र फरदे, उपाध्यक्ष सुनील गणवीर, सहसचिव खोजराम दरवडे, रविंद्र कीटे ने मार्गदर्शन किया. समापन पर युवक प्रतिनिधि चत्रुघन लांजेवार, महिला प्रतिनिधि दिप्ती राणे, धनेश्वर जमईवार, मिथुन राहुलकर, सोमेश्वर राऊत, महेंद्र भोयर, महेंद्र कटरे, सचिन सांगोडकर, अशोक परशुरामकर, रमेश प्रधान, मनोज डोंगरवार, सुनील सोनवाने, देवेंद्र मेश्राम, दुर्गाप्रसाद मालाधारी ने विचार व्यक्त किए तथा महिला दिवस व किसान कर्ज बाजारी व आत्महत्या पर लांजेवार ने कविता का पठन किया. आभार शेख ने माना.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here