Home विदर्भ भंडारा उच्च शिक्षित बेटा निकला कातिल

उच्च शिक्षित बेटा निकला कातिल

21
0
SHARE

भंडारा. 7 जनवरी को सुबह 11 बजे अड्याल पुलिस ने कोंढा निवासी शिक्षक लीलाधर जिभकाटे (57) का शव खेत में बरामद किया था. पुलिस ने इस प्रकरण की जांच शुरू करते हुए मात्र 48 घंटे में ही हत्यारे को धर दबोचा. पुलिस उस समय हैरत में रह गई जब इस हत्या का आरोपी मृतक का ही पुत्र निकला. जिले में इसी सप्ताह रिश्ते में हत्या होने की यह तीसरी घटना है. तुमसर में साहिल शेंद्रे एवं ढिवरवाडा करडी में दीपसिंह हरीसिंह चौव्हाण की हत्या की गुत्थी सुलझाने में स्थानीय गुनाह शाखा पुलिस निरीक्षक रविंद्र मानकर एवं उनकी टीम को सफलता मिली थी.

गोबरखाद के गड्ढे में डाल दी थी लाश
पुलिस की जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी मंगेश जिभकाटे 6 जनवरी को सुबह नागपुर से गोंदिया निवासी रामचंद हिंगे के साथ मोटर साईकिल से कोंढा पहुंचा. उसने अपने पिता से पैसों की मांग की. जब पिता ने पैसे देने से इंकार कर दिया तो उसने ने अपने पिता का रस्सी से गला घोंटा व हत्या कर दी. इसके बाद सबूत मिटाने के उद्देश से शव को मोटरसाइकिल पर लादा व खेत में लेकर पहुंचे. खेत में गोबरखाद के गड्ढे में डाल दिया था.

अक्सर करता था बड़ी रकम की मांग
एसपी विनीता साहू ने लीलाधर तानबाजी जिभकाटे की हत्या की जांच का जिम्मा भी एलसीबी पुलिस निरीक्षक रविंद्र मानकर को सौंपा था. मानकर अपने सहयोगी अधिकारी व कर्मचारियों के साथ पुलिस स्टेशन अडयाल अंतर्गत मौजा कोंढा पहुंचकर अपने मुखबिरों को सक्रिय किया. उन्हें गुप्त सूत्रों से जानकारी मिली की मृतक लीलाधर जिभकाटे व उनके बेटे मंगेश जिभकाटे में कहा-सुनी होती थी. एमटेक तक पढ़ा मंगेश जिभकाटे नागपुर में आगे की पढाई कर रहा था. आए दिन वह अपने पिता को बड़ी रकम की मांग करता था. इस जानकारी के आधार पर मानकर ने मृतक के बड़े बेटे मंगेश को पूछताछ के लिए बुलाया. कड़ी पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि उसने अपने मित्र बसंतनगर गोंदिया निवासी रामचंद हिंगे के साथ मिलकर हत्या को अंजाम दिया था. पुलिस ने मंगेश के साथी रामचंद को भी गिरफ्तार किया है.

यह कार्रवाई एसपी साहू, अपर पुलिस अधीक्षक रश्मि नांदेडकर, उपविभागीय पुलिस अधिकारी प्रभाकर तिक्कस के मार्गदर्शन में परिवीक्षाधीन पुलिस उपअधीक्षक स्वप्नील जाधव, एलसीबी पीआई रविंद्र मानकर, एपीआई विजय पोटे एवं एलसीबी टीम ने की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here