Home विदर्भ चंद्रपुर अगरबत्ती उत्पादन यूनिट बनेगा रोजगार निर्मिति का केंद्र

अगरबत्ती उत्पादन यूनिट बनेगा रोजगार निर्मिति का केंद्र

11
0
SHARE

चंद्रपुर. राज्य के वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि आईटीसी अगरबत्ती प्रकल्प, महाराष्ट्र बांस विकास मंडल व बांस संशोधन और प्रशिक्षण केंद्र के संयुक्त तत्वावधान में पोंभूर्णा में स्थापित होने वाला अगरबत्ती यूनिट परिसर में रोजगार निर्मिति का केंद्र बनेगा. नागपुर में आईटीसी अगरबत्ती प्रकल्प, महाराष्ट्र बांस विकास मंडल और बांस संशोधन और प्रशिक्षण केंद्र के बीच पोंभूर्णा में अगरबत्ती उत्पादन यूनिट स्थापित करने के दृष्टि से सामंजस्य करार किया गया.

इस समय वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार, वन विभाग के प्रधान सचिव विकास खारगे, प्रधान मुख्य वनसंरक्षक व वनबल प्रमुख उमेश अग्रवाल, नागपुर की महापौर नंदा जिचकार, जैव विविधता मंडल के अध्यक्ष विलास बर्डेकर, महाराष्ट्र बांस विकास मंडल के प्रबंधकीय संचालक टी.एस.के. रेड्डी, बांस संशोधन व प्रशिक्षण केंद्र के संचालक राहुल पाटिल, जैवविविधता मंडल के सदस्य तथा आईटीसी कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रवि रायवरम, आपरेशन विभाग के प्रमुख एम. मुरलीधर की प्रमुखता से उपस्थिति थी.

200 से अधिक महिलाओं को अवसर
पोंभूर्णा में स्थापित किए जा रहे अगरबत्ती उत्पादन यूनिट की क्षमता 100 मीट्रिक टन है. चांदा से बांदा विकास योजना के माध्यम से प्रकल्प मंजूर हुआ है. प्रकल्प के माध्यम से पोंभूर्णा तहसील में 200 से अधिक आदिवासी महिलाओं को रोजगार का अवसर उपलब्ध किया जाएगा. प्रकल्प के लिए 4.85 करोड़ रुपये मंजूर हुए. वनमंत्री सुधीर मुनगंटीवार की उपस्थिति में इस अगरबत्ती उत्पादन यूनिट के लिए सामंजस्य करार किया गया. अब आईटीसी के मंगलदीप ब्रान्ड की अगरबत्ती पोंभूर्णा में तैयार होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here