Home विदर्भ अमरावती 15 प्रश में से हो रही कालाबाजारी

15 प्रश में से हो रही कालाबाजारी

12
0
SHARE

अमरावती. जिले में लगभग 85 प्रश आनलाइन वितरण व्यवस्था आरंभ हो चुकी है, लेकिन शेष 15 प्रश में से अब भी अनाज की कालाबाजारी जारी है. ऐसी कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ हम कठोर कार्रवाई कर रहे हैं. जल्द ही इस पर पूरी तरह नियंत्रण लगेगा. शत-प्रतिशत आनलाइन व्यवस्था होने पर यह व्यवस्था पूरी तरह पारदर्शक होगी. यह जानकारी भी जिला आपूर्ति अधिकारी अनिल टाकसाले ने दी.

1,915 राशन दूकानों में लगी पॉज मशीनें
शहर में कुल 1915 राशन दूकानें है. इन सभी दूकानों में पॉज मशीनें उपलब्ध करवाई गई है. इसके साथ ही धारणी, चिखलदरा इन 2 तहसीलों को छोड़कर अन्य सभी तहसीलों की राशन दूकानों में भी पॉज मशीनों से अनाज वितरण शुरू है.

किसी भी दूकान से अनाज मिलेगा
उन्होंने बताया कि ग्राहक किसी भी राशन दूकान से बायोमीट्रिक पद्धति से थम लगाकर अपने हिस्से का अनाज उठा सकते हैं. परिवार के किसी भी सदस्य जिसका नाम पाज मशीन में है, लेकिन उसका आधार नंबर नहीं है. ऐसे व्यक्तियों की आधार सिडिंग इ-केवायसी कर उन्हें अनाज वितरण किया जा रहा है. जिन दूकानों में पॉज मशीनें नहीं लगी हैं, वहां आपूर्ति निरीक्षक के आधार नंबर व उनके अंगूठे के आधार पर अनाज वितरण जारी है.

2,550 क्विंटल तुअर दाल की मांग
उन्होंने बताया कि 14 जून 2018 के नर्णिय के अनुसार सार्वजनिक वितरण व्यवस्था अंतर्गत सभी राशनकार्ड धारकों को 35 रुपये प्रति किलों के हिसाब से तुअर दाल वितरित की गई, लेकिन 15 अक्तूबर 2018 के निर्णय के अनुसार अब केवल अंत्योदय व प्राधान्य परिवार के लाभार्थियों को ही पॉज मशीन द्वारा अनाज वितरित करने के निर्देश मिले हैं. वर्ष 2018 के लिये 2.550 क्विंटल तुअर दाल की मांग की गई थी. जिसकी आपूर्ति जारी है. अंत्योदय अन्न योजना व प्राधान्य कुटुंब लाभार्थियों को एक किलो चनादाल व एक किलो उड़द दाल भी दी जा रही है. जिसके लिये 1940 क्विंटल चनादाल व 970 क्विंटल उड़द दाल प्राप्त हुई है.

दीपावली का राशन अब तक नहीं
टाकसाले ने बताया कि दीपावली के लिये राशन का जो कोटा घोषित किया गया वह इस महीने के राशन के साथ दिया जाएगा. जिसमें चना और उड़द दाल भी शामिल होगी. इस समय केरोसिन की बिक्री 28.60 रुपये प्रति लीटर के अनुसार की जा रही है. एक व्यक्ति के लिये 2 लीटर, 2 व्यक्ति के लिये 3 लीटर व 3 से अधिक व्यक्ति के परिवार के लिये 4 लीटर का कोटा उपलब्ध होने की बात उन्होंने बताई.

दिव्यांगों ने मचाया हंगामा
पत्र-परिषद के दौरान पत्रकारों ने राशनकार्ड रिन्यू में हो रही लेटलतीफी पर सवाल उठाया. इस पर टाकसाले ने आवेदन के 1 माह के भीतर कार्ड रिन्यू कर देने की बात बताई. उनकी बात अभी पूर ही नहीं हुई थी कि दिव्यांग राशन धारकों ने डीएसओ कार्यालय पर धमक कर जमकर हंगामा मचाया. उन्होंने आरोप लगाया कि 1 वर्ष से अधिक की अवधि बीत जाने के बावजूद उन्हें राशनकार्ड रिन्यू नहीं करवाकर दिये गये. यहां तक की कार्यालय के अधिकारी विकलांगों के साथ दुर्व्यवहार करते है. उन्हें कार्यालय से बाहर तक निकाल देते है. इस पर टाकसाले ने शहर आपूर्ति अधिकारी सोलंकी को बुलाकर इन विकलांगों में से 2 नेत्रहीनों व अन्य 3 इस तरह तुरंत रन्यिू करावकर दिये. मोर्चे में ऋषिकेश पंडित सहित सैकड़ों विकलांग शामिल थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here