Home विदर्भ यवतमाल शहर में धड़ल्ले से चल रहा वरली मटका

शहर में धड़ल्ले से चल रहा वरली मटका

113
0
SHARE

यवतमाल. एक ओर पुलिस प्रशासन की ओर से जहां अवैध धंधों की रोकथाम के लिए कड़े आदेश जारी किए जाते हैं, तो दूसरी ओर पुलिस अधिकारियों की अनदेखी से अवैध धंधे खुलेआम चलते हैं. लेकिन यह अवैध धंधे पुलिस चौकी के पीछे ही चल रहे हों तो इसे क्या कहा जाए. क्योंकि इसी तरह का नजारा शहर के शारदा चौक परिसर की पुलिस चौकी के पिछले हिस्से में देखने को मिल रहा है. क्षेत्र में कानून व्यवस्था और अवैध व्यवसायों पर नकेल कसने विशेष तौर पर पुलिस चौकी तो बनी है, लेकिन इसी पुलिस चौकी के पीछे खुलेआम वरली मटका के 4 से अधिक काउंटर चल रहे हैं. इससे शहरवासियों द्वारा पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर आश्चर्य जताया जा रहा है.

पुलिस का कोई खौफ नहीं
आए दिन यहां पर पुलिस छापा मारती है. गिने-चुने लोगों को पकड़कर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करती है और बाद में स्थिति जस की तस हो जाती है. इससे ऐसा लगता है कि अवैध धंधे वालों को पुलिस का कोई खौफ नहीं है. इस पुलिस चौकी परिसर में वरली मटका के काउंटर पर भारी भीड़ होती है, लेकिन पुलिस अधिकारी, कर्मचारी इससे अनभिज्ञ बने हुए हैं. इसके चलते क्षेत्रीय नागरिकों को एक प्रतिनिधिमंडल ने पुलिस अधीक्षक एम. राजकुमार से मुलाकात कर यहां पर चल रहे वरली मटका अड्डा बंद करने की मांग की है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री को भी इस अवैध व्यवसाय के बारे में लिखित ज्ञापन भेजा है.

थानेदार को दिए थे रेड मारने के आदेश
इससे पूर्व जिला पुलिस अधीक्षक द्वारा ली गयी क्राइम मीटिंग के दौरान शहर में अवैध व्यवसायों का मुद्दा उठा था. इसके बाद एसपी ने थानेदार को वरली मटका काउंटर, अवैध शराब और जुआ अड्डों पर मॉडेल रेड मारकर कार्रवाई के आदेश दिए थे. इन स्थानों पर होनेवाली हलचलों पर निगाहें रखते हुए अवैध धंधों पर नियंत्रण रखने की सूचना भी दी गयी थी. इसके अलावा यहां पर कार्रवाई के बाद केस न्यायालय में आगे बढ़े इस लिहाज से तैयारी करने के निर्देश एसपी ने दिए थे. लेकिन इसके बावजूद इन स्थानों पर ठोस कार्रवाई नहीं की गयी है.

कार्यप्रणाली पर उठ रहे सवाल
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के शारदा चौक परिसर में खुलेआम चल रहे वरली मटका काउंटर बंद करने समेत क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने अवधूतवाडी पुलिस थाने में कार्यरत एपीआई चौधरी को पूरे समय के लिए शारदा चौक बीट संभालने की जिम्मेदारी देने के निर्देश पुलिस अधीक्षक कार्यालय ने अवधूतवाडी के थानेदार को दिए थे. साथ ही किसी भी हालत में यहां पर मटका काउंटर बंद करने की सूचना दी गयी थी. बता दें कि इससे पूर्व यहां पर सीधे पुलिस अधीक्षक द्वारा छापा मारकर वरली मटका काउंटर बंद किए गए थे. इसके बाद यहां पर एपीआई को कार्यरत किया गया, लेकिन कार्रवाई न होने से पुलिस अधिकारी की कार्यप्रणाली पर भी सवालियां निशान उठ चुके हैं.

नागरिकों ने CM को भेजा ज्ञापन
इस संबंध में मुख्यमंत्री को भेजे गए ज्ञापन में कहा गया है कि शहर के इस तरह के वरली मटका के अड्डे अनेक चौक पर शुरू हैं. जिससे नागरिकों को भारी तकलीफें झेलनी पड़ती है. इसके बावजूद पुलिस प्रशासन द्वारा इन अड्डों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है. शहर के शारदा चौक, आठवडी बाजार, दत्तचौक, रेल्वे स्टेशन, कलंब चौक, अप्सरा टॉकीज चौक में सरेआम शुरू वरली मटका के काउंटर देखे जा सकते हैं. यवतमाल पुलिस द्वारा इन अवैध व्यवसायियों पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है. यदि शीघ्र कार्रवाई नहीं की गई तो आंदोलन शुरू किया जायेगा.

मुख्यमंत्री को भेजे गए ज्ञापन पर पी.आर.खंडागले, सी.डी. खाडरे, राजेश भीमटे, अवचटज, आर.डी. सोठिया, एल.बी. लामाडे, साखरे, ए.डी.झामरे, प्रकाश तेलगोटे, बालू सातपुते के हस्ताक्षर हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here