Home विदर्भ गडचिरोली ZP स्कूलों की हालत खराब

ZP स्कूलों की हालत खराब

135
0
SHARE

कुरखेडा. तहसील के जिला परिषद स्कूलों के इमारतें जीर्ण हो चुकी हैं. इस बारे में पंस की मासिक सभा में प्रस्ताव लिया गया. जिप प्रशासन इस ओर अनदेखी कर रही है. कई स्कूलों की कक्षाएं अच्छे नहीं है. छात्रों के लिए खतरा साबित हो सकती है. पंस सभापति गिरीधर तितराम ने चिखली समेत तहसील के अन्य स्कूलों को भेंट देकर स्कूलों की अवस्था का निरीक्षण किया.

किया जाएगा आडिट
राज्य में जीर्ण ज्ञान मंदिर का ऑडिट करने का आदेश सरकार ने दिया है. जिससे स्कूलों का दर्जा व विभिन्न सुविधाओं की पूर्ति होने की संभावना व्यक्त की जा रही थी, किंतु सुविधाओं के साथ ग्रामीण क्षेत्र के स्कूल की खतरनाक इमारतें, शौचालयों की दयनीय अवस्था, स्वच्छ पानी की कमी है. पहली से चौथी व सातवीं तक चलाए जा रहे प्राथमिक स्कूलों की इमारते जीर्ण हो चुकी हैं.

छात्रों को झेलनी पड़ती है परेशानी
जिप की ओर से स्कूलों की समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. बारिश के दिनों में छात्रों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है. पंस व जिप के शिक्षा की ओर शिकायत करने के बाद भी कोई फैसला नहीं लिया जा रहा है. जिससे तहसील के कई स्कूलों में पढ़ रहे छात्रों के पालक सरकारी स्कूलों में नहीं पढ़ने की बात कर रहे हैं. चिखली की जि. प. स्कूल में 1 से 7 कक्षा है. 150 से अधिक छात्र शिक्षा ले रहे हैं. स्लैब की इमारत में 3 से 4 ही कमरे अच्छे है. बाकी 4 वर्ग के छात्रों को कवेलू के कमरे पढ़ाया जा रहा है. कवेलू की इमारत जीर्ण होने से छात्रों पर पानी गिरता है. शिकायत के बावजूद जि.प. प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है. ऐसा आरोप पंस सभापति गिरीधर तितराम ने लगाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here